You are currently viewing OTG Pen Drive क्या है और कैसे काम करती है?
OTG पेन ड्राइव क्या है और कैसे काम करता है

OTG Pen Drive क्या है और कैसे काम करती है?

  • Post author:
  • Post category:Tech
  • Post comments:2 Comments
  • Post last modified:November 12, 2022
  • Reading time:3 mins read

आज के इस लेख में हम आपको OTG Pen Drive क्या होता है और otg pen drive कैसे काम करती है इसके बारे में जानकारी देने वाले है।

यदि आप कंप्यूटर या लैपटॉप इस्तेमाल करते होंगे तो आपको जरूर पता होगा कि otg pendrive क्या होती है।

यदि आपको नही पता कि otg pendrive क्या होती है तो कोई बात नही आज का यह लेख पढ़ने के बाद आपको पता चल जाएगा।

यदि हम पिछले 15 या 20 वर्षों पहले की बात करे तो आपने देखा होगा कि कंप्यूटर के सभी hardware बढ़ी बढ़ी आकारों के आटे थे, परंतु अब ऐसा नही रहा है।

अब कंप्यूटर की सभी चीजें छोटी छोटी हो गयी है यहां तक कि अब कंप्यूटर का आकार भी काफी पतला और छोटा हो गया है। तो इन्ही hardware में पेन ड्राइव का भी नाम आता है।

यह एक ऐसा डिवाइस है जो दिखने में तो बहुत छोटा होता है परंतु बहुत काम का होता है। तो चलिए अब हम आपको बताते है कि ओटीजी पेन ड्राइव क्या होती है।

OTG Pen Drive क्या होती है ?

पेनड्राइव को आप लैपटॉप, पीसी इनसे जोड़ सकते हैं, लेकिन पेन ड्राइव यह मोबाइल फोन, टैबलेट इनसे कनेक्ट नहीं हो सकते हैं क्योंकि कंप्यूटर और मोबाइल के लिए यूएसबी पोर्ट अलग अलग होते है।

इसलिए OTG Cable का इस्तेमाल पहले मोबाइल से पेनड्राइव को जोड़ने के लिए किया जाता था, जिसमें Micro USB और Type A दोनों होते थे। फिर ओटीजी एडाप्टर आए जिन्हें मोबाइल से जोड़ा जा सकता है।

परंतु अब तो OTG Pendrive ही आ गए है जिनमे एक साइड पर ओटीजी पोर्ट और दूसरे साइड पर सामान्य यूएसबी पोर्ट होता है। इस OTG Pendrive को आप डायरेक्ट अपने मोबाइल में कनेक्ट कर सकते है।

OTG Pen Drive Image
OTG Pen Drive

OTG पेन ड्राइव को आप एक डिवाइस के तौर पर जान सकते है यह एक ऐसा डिवाइस होता है जो कि किसी भी डेटा को स्टोर करके रख सकता है और साथ ही डेटा को ट्रांसफर भी कर सकता है।

otg pen drive खास तौर पर किसी भी डेटा को ट्रांसफर करने के लिए ही इस्तेमाल किया जाता है।

पेन ड्राइव में आप किसी भी तरह का डेटा store करके रख सकते है, जैसे कि music, photos, videos, documents इस तरह का कोई भी डेटा आप स्टोर करके रख सकते है।

कई लोग otg पेन ड्राइव को फ़्लैश ड्राइव या USB ड्राइव भी कहते है। पेन ड्राइव यह दिखने में काफी छोटा होता है जिसके कारण आप इसे कई पर भी ले जा सकते है और अपने लैपटॉप या स्मार्टफोन में लगाकर इस्तेमाल कर सकते है।

otg पेन ड्राइव दिखने में तो बहुत छोटा होती है परंतु इसकी स्टोरेज कैपेसिटी बहुत ज्यादा होती है। आप 1 GB से लेकर 1 TB तक का डेटा स्टोर करके रख सकते है। अब यह पूरी तरह आप पर निर्भर करता है कि आप कितने GB वाला पेन ड्राइव खरीदते है।

आपने यह तो जान लिया है कि पेन ड्राइव क्या होती है, चलिए अब हम आपको पेन ड्राइव के कुछ फायदे भी बता देते है।

OTG का Full Form क्या होता है? | OTG Full Form

आइये सबसे पहले जानते हैं कि OTG का Full Form क्या होता है। OTG का फुल फॉर्म होता है on the go और OTG Pen Drive एक तरह की यूएसबी ड्राइव होती है।

इसके एक तरफ यूएसबी पोर्ट होता है जिसे आप कंप्युटर, लैपटॉप या अन्य यूएसबी compatible डिवाइस से कनेक्ट सकते हैं और इसके दूसरी तरफ एक माइक्रो यूएसबी पोर्ट होता है, जिसे आप अपने मोबाईल से कनेक्ट कर सकते हैं।

OTG Pen Drive के फायदे क्या है ?

वैसे तो otg पेन ड्राइव के बहुत सारे फायदे है परंतु यहां पर हम आपको कुछ महत्वपूर्ण फायदे बताने जा रहे है।

  1. otg पेन ड्राइव यह दिखने में बहुत छोटी और हल्का होती है जिसके कारण इसे आप कही पर भी ले जा सकते है।
  1. आप पेन ड्राइव के अंदर 1 GB डेटा से लेकर 1 TB डेटा तक स्टोर करके रख सकते है जो कि एक बहुत बड़ी बात है।
  1. यह पूरी तरह से सिक्योर होता है और सिक्योर होने के कारण यह आपके डेटा को करप्ट (corrupt) होने से बचाता है।
  1. यह काफी सस्ता होता है जिसके कारण इसे हर इंसान आसानी से खरीद सकता है।

यह तो थे OTG पेन ड्राइव के फायदे, चलिए अब हम आपको OTG पेन ड्राइव कैसे काम करती है इसके बारे में बताते है।

OTG Pen Drive कैसे काम करती है ?

यदि आपको नही पता कि otg पेन ड्राइव कैसे काम करती है तो कोई बात नही हम आपको बता देते है।

आप सभी लोगो ने otg पेन ड्राइव बाहर से तो देखा ही होगा, परंतु क्या आपने कभी पेन ड्राइव को अंदर से खोलकर देखा है।

यदि आप otg पेन ड्राइव को खोलकर देखोगे तो उसमें आपको एक छोटा सा सर्किट बोर्ड दिखेगा जो कि बहुत काम का होता है।

यह जो सर्किट बोर्ड होता है वही otg पेन ड्राइव का आधार होता है और साथ ही पूरी जानकारी एकत्र करने के लिए भी काम करता है।

इसके अंदर का सर्किट बोर्ड कम विधुत शक्ति के साथ डेटा निकाल सकता है। यह सर्किट बोर्ड पुरानी EEPROMS technology पर आधारित है जो लिखने और मिटाने की प्रोसेस की अनुमति देती है।

जब भी आप पेन ड्राइव को USB पोर्ट से जोड़ते है तो यह सर्किट बोर्ड एक्टिवेट हो जाता है। इस सर्किट में मौजूद प्रोग्राम के माध्यम से डेटा को ट्रासंफर करने के बाद आप इस डेटा को कंप्यूटर में देख सकते है। तो अब आप जान चुके है कि पेन ड्राइव कैसे काम करता है।

निष्कर्ष | Conclusion

तो इस लेख में हमने आपको पेन ड्राइव क्या है और कैसे काम करती है इसके बारे में जानकारी दी है। हम आशा करते है कि आज का यह लेख आपको पसंद आया होगा।

This Post Has 2 Comments

Leave a Reply