You are currently viewing Stock Android क्या है और यह UI आधारित Android से कैसे अलग हैं?
Stock Android क्या है

Stock Android क्या है और यह UI आधारित Android से कैसे अलग हैं?

Stock Android क्या हैं और यह UI आधारित Android से कैसे अलग हैं?
Stock Android क्या है

Stock Android के बारे में आप सभी ने सुना होगा। एंड्राइड वर्तमान में दुनिया का सबसे अधिक उपयोग किया जाने वाला ऑपरेटिंग सिस्टम है जो मुख्य रूप से स्मार्टफोन्स और टैबलेट में उपयोग किया जाता है। एंड्राइड का आविष्कार एक प्राइवेट कंपनी Android Inc. ने किया था जिसे बाद में गूगल ने खरीद लिया और उसके बाद से गूगल ही एंड्रॉयड पर लगातार काम कर रहा है। एंड्राइड एक ओपन सोर्स ऑपरेटिंग सिस्टम है जिसे बिना किसी भुगतान के कोई भी कंपनी आसानी से उपयोग कर सकती है और इसका मॉडिफिकेशन भी किया जा सकता है।

वर्तमान में दुनिया की काफी सारी कंपनी एंड्राइड का उपयोग करती है और अपने स्मार्टफोंस में एंड्रॉयड ऑपरेटिंग सिस्टम डालती है लेकिन लगभग सभी कंपनियां इस पर अपने यूआई की परत चढ़ाकर देती है। अर्थात कम्पनिया एंड्राइड में काफी सारे मॉडिफिकेशन करती है और उसके बाद उसे अपने स्मार्टफोन में डालती है। Stock Android इस UI आधारित Android से थोड़ा अलग हैं और मेरे जैसे लाखों लोग Stock Android को ही अधिक पसन्द करते हैं। इस लेख में हम Stock Android के बारे में ही बात करेंगे और ‘Stock Android क्या हैं और यह UI आधारित Android से कैसे अलग हैं’ के बारे में जानेंगे।

Stock Android क्या है? (What is Stock Android?)

जैसा कि हमने आपको पहले बताया कि एंड्राइड एक ओपन सोर्स ऑपरेटिंग सिस्टम है और कोई भी कंपनी या इंडिविजुअल इसका इस्तेमाल कर सकते है। एंड्राइड गूगल का ऑपरेटिंग सिस्टम है और हर साल एंड्राइड के नए वर्जन गूगल ही निकालता है।

कुछ कंपनियां एंड्राइड में काफी ज्यादा बदलाव कर देती है जैसे कि हुवावे, शाओमी आदि। लेकिन वही कुछ कंपनियां गूगल के द्वारा लांच किए गए बिना किसी मॉडिफिकेशन के प्योर एंड्राइड का थोड़े से बदलाव के साथ इस्तेमाल करती हैं जैसे कि One plus! लेकिन कुछ कंपनी ऐसी भी है जो सीधे गूगल के द्वारा संचालित किए जाने वाले शुद्ध एंड्रॉयड का उपयोग अपने स्मार्टफोन में करती है। उसे ही Stock Android कहा जाता हैं। वर्तमान में स्टॉक एंड्राइड ‘Google Pixel‘ और नोकिया के एंड्राइड डिवाइस के साथ कुछ अन्य कंपनियों के स्मार्टफोन पर भी देखने को मिलता है।

स्टॉक एंड्राइड को अगर सरल भाषा में समझा जाए तो यह है एंड्रॉयड का अनमोडिफाइड वर्जन होता है जिसके ऊपर किसी भी तरह की यूआई की कोई परत नहीं चढ़ाई जाती और इसमे कोई खास एक्सटर्नल फीचर भी नहीं जोड़ा जाता। गूगल की तरफ से जो एंड्राइड वर्जन रिलीज किया जाता है वह एंड्राइड का शुद्ध फॉर्म होता है और उसी को स्टॉक एंड्राइड कहते हैं।

स्टॉक एंड्राइड में आपको कोई भी एक्स्ट्रा एप्लीकेशन नहीं मिलता जो लगभग अधिकतर कंपनियों के स्मार्टफोन में हमें देखने को मिलता है। स्टॉक एंड्राइड एंड्राइड का मिनिमलिस्टिक यूआई पर आधारित होता है जो गूगल के द्वारा रिलीज किया जाता है।

Stock Android यूआई आधारित एंड्राइड से कैसे अलग होता है?

स्टॉक एंड्रॉइड एक Google Product है जो सीधे Google के द्वारा रिलीज किया जाता हैं। यह किसी भी ब्लोटवेयर के बिना बहुत Clean और Simple (Minimalistic) होता है। वही दूसरी तरफ Custom UI या Custom ROM स्मार्टफोन निर्माता कंपनियों की एक परत जैसी हैं जो एंड्राइड पर चढ़ाई जाती हैं।

सरल भाषा मे UI Based एंड्राइड में काफी सारे ब्लोटवेयर और एप्लीकेशन ऐड किए जाते हैं जो गूगल के द्वारा रिलीज किए गए एंड्राइड में नहीं होते। इसके अलावा आधारित एंड्राइड में मुख्य रूप से काफी हद तक इसकी डिजाइन भी बदल दी जाती है जिससे यूजर एक्सपीरियंस में फर्क पड़ता हैं। UI Based Android में काफी सारे एक्सटर्नल फीचर्स भी ऐड किये जाते हैं।

सरल भाषा में अगर स्टॉक एंड्राइड एंड्रॉयड और यूआई आधारित एंड्राइड में फर्क को समझा जाए तो Stock Android गूगल द्वारा रिलीज किया जाने वाला एंड्राइड का शुद्ध फॉर्म होता है जबकि UI आधारित एंड्राइड में कंपनियां काफी सारे मॉडिफिकेशन करती है और उसे काफी हद तक बदल देती है।

Stock Android के क्या फायदे हैं? (Stock Android Advantages)

Google Pixel और Nokia के स्मार्टफोन्स की तरह काफी सारी स्मार्टफोंस में स्टॉक एंड्राइड देखने को मिलता है जो गूगल के द्वारा रिलीज किए गए एंड्राइड की शुद्ध फॉर्म होता है। काफी सारे लोग यूआई आधारित एंड्राइड से ज्यादा स्टॉक एंड्राइड को पसंद करते हैं, जिसके निम्न कारण हैं:

Fast Updates :क्योंकि स्टॉक एंडॉयड गूगल द्वारा संचालित किया जाता है तो इसमें हमें तेजी से अपडेट देखने को मिलते हैं यानी कि अगर आपके स्मार्टफोन या फिर आपके ऑपरेटिंग सिस्टम में कोई भी जो किसी भी समस्या होती है तो वह जल्द ही अपडेट के द्वारा सॉल्व कर दी जाती हैं। इसका उपयोग करने वाले मैन्युफैक्चरर्स को गूगल के द्वारा दिए जाने वाले Update को सीधे अपने उपयोगकर्ताओं को प्रोवाइड करने का विकल्प मिलता हैं जबकि अन्य कम्पनिया जो UI Based Android का उपयोग करती है ऐसा नही कर पाती।

No Bloatware : Stock Android को पसन्द करने वाले लोगो को इसे पसन्द करने का एक कारण यह भी हैं कि Stock Android पर आधारित डिवाइस ब्लॉटवेयर फ्री होते हैं जिससे कि बेहतरीन यूजर एक्सपीरियंस देखने को मिलता हैं। कस्टम यूआई एंड्राइड में आपको काफी सारे ऐसे अनुपयोगी एप्लीकेशंस या फिर कहा जाए तो ब्लोटवेयर देखने को मिलेगा जिनका आपके लिए कोई उपयोग नही हैं लेकिन क्योंकि कम्पनियो को पैसा कमाना हैं तो वह उन्हें आपके ऊपर देखते हैं लेकिन Stock Android के साथ ऐसा नहीं हैं।

Better Storage : क्योंकि आपके स्टॉक एंड्रॉयड स्मार्टफोन में किसी भी तरह के ब्लॉटवेयर या अनुपयोगी एप्लीकेशन नहीं होंगे तो आपको किसी कस्टम यूआई आधारित स्मार्टफोन के मुकाबले ज्यादा स्टोरेज देखने को मिलेगा। सरल भाषा में अगर आप एक 64GB वाला सिस्टम यूआई आधारित स्मार्टफोन लेते हो और एक 64GB वाला स्टॉक एंडॉयड स्मार्टफोन लेते हो तो आपको बेहतरीन स्टोरेज स्टॉक एंड्राइड स्मार्टफोन में ही देखने को मिलेगा क्योंकि उसमें कोई भी ब्लॉटवेयर एड नही किया गया हैं।

Faster then Other : गूगल के स्टॉक एंड्राइड की खास बात यह भी है कि यह अन्य यूआई आधारित एंड्राइड के मुकाबले अधिक तेज होता है। अगर आपको लगता है कि आप इस स्मार्टफोन की स्पीड में केवल आपका प्रोसेसर ही महत्वपूर्ण योगदान देता है तो आपको बता दें कि ऑपरेटिंग सिस्टम भी इसके लिए एक महत्वपूर्ण कारण होता है और यही कारण है कि काफी सारे ब्रांड्स के स्मार्टफोन बेहतरीन हार्डवेयर का उपयोग करते हुए भी स्टॉक एंड्राइड वाले स्मार्टफोंस को स्पीड के मामले में पीछे नहीं छोड़ पाते।

उम्मीद हैं कि Stock Android पर आधारित हमारा यह देख आपको पसंद आया होगा। अगर आपको भी हमारी तरह कस्टम आधारित यूआई आधारित एंड्राइड से ज्यादा स्टॉक एंड्राइड पसंद है तो इस लेख को सोशल मीडिया पर शेयर करके लोगो को Stock Android के बारे में बताए। इस लेख में हमने सरल भाषा मे ‘Stock Android क्या है और यह UI आधारित Android से कैसे अलग हैं’ के  बारे में बताने की कोशिश की हैं। अगर आपके दिमाग मे Stock Android से जुड़ा हुआ कोई सवाल अब भी चल रहा हैं तो हमे Comment करके जरूर बताएं।

This Post Has 4 Comments

Leave a Reply